Home Big grid मुख्यमंत्री के आग्रह के बाद कर्नाटक में फंसे खूंटी के 281 आदिवासियों...

मुख्यमंत्री के आग्रह के बाद कर्नाटक में फंसे खूंटी के 281 आदिवासियों में जगी उम्मीद

422
0
SHARE

लॉकडाउन का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित करेंहेमन्त सोरेन

रांची ब्यूरो 

रांची:झारखण्ड मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने उपायुक्त पलामू को लॉकडाउन का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित कराने का आदेश दिया है। पलामू स्थित हैदरनगर बाजार में लॉकडाउन में सामाजिक दूरी भी पालन नहीं हो रहा। बाजार में मेला जैसा माहौल। इसके बाद संक्रमण फैलने की संभावित आशंका को देखते हुए मुख्यमंत्री ने उपरोक्त आदेश दिया है। राज्य से बाहर रह रहे झारखण्ड के सभी भाई-बहन याद रखें। आपदा की घड़ी में आप अकेले नहीं हैं। पूरी राज्य सरकार आपके साथ है। देश व्यापी लॉकडाउन के कारण आप सभी को झारखण्ड वापस लाना सम्भव नहीं है, पर मदद आप तक जरूर पहुंचेगी। पुनः करबद्ध प्रार्थना है। जहां हैं। वहीं रहें। यही इस महामारी से बचने का सबसे कारगार और सुरक्षित उपाय है। मैं सभी राज्यों के मुख्यमंत्री के सम्पर्क में हूँ। ताकि आप तक मदद और जरूरी सुविधाएं जल्द से जल्द पहुंचे। जितना आप घर पर रहेंगे उतना ही आप और आपके अपने सुरक्षित रहेंगे । मुख्यमंत्री ने उपायुक्त धनबाद को वहां की एक कंपनी में कार्यरत पंजाबी भाइयों तक जरूरी मदद पहुँचाते हुए सूचित करने  का आदेश दिया है। साथ ही कहा कि जिस कम्पनी में ये कार्यरत थे। वहां इनकी कोई आर्थिक क्षति ना हो। इन्हें इनका पूरा हक मिले। मुख्यमंत्री को वीडियो साझा कर जानकारी दी गई कि जिस कंपनी में वे कार्य करते हैं, वहां उन्हें खाना नहीं मिल रहा है और देशव्यापी लॉकडाउन है। उपायुक्त बोकारो को डिप्रेशन के एक मरीज को जल्द जरूरी दवा उपलब्ध कराने का निदेश दिया है। साथ ही उपायुक्त बोकारो को सफाईकर्मियों के साथ आ रही परेशानियों के समाधान का निदेश दिया है। मुख्यमंत्री द्वारा खूंटी के 281 आदिवासी भाईयों की मदद के आग्रह को कर्नाटक सरकार ने स्वीकारा कर्नाटक सरकार ने मंगलोर में फंसे खूंटी के 281 आदिवासी भाईयों को मदद पहुंचाने का भरोसा दिया है। मुख्यमंत्री को कर्नाटक सरकार ने बताया कि फंसे हुए लोगों को हर जरूरी मदद से आच्छादित किया जाएगा।तमिलनाडु सरकार ने कोयम्बटूर में फंसे छात्रों को आवश्यक मदद पहुंचाने का भरोसा दिया है। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ने कहा कि छात्रों एवं वेल्लोर में ईलाज कराने आये लोगों के भोजन और रहने की व्यवस्था करने का निदेश दे दिया गया है। सोरेन ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री को इस मदद हेतु आभार व्यक्त किया है।